साथ-साथ का वादा

वो जो साथ-साथ का वादा था,
वो सात समंदर से भी ज्यादा था;

साथ रहने का इरादा भी था!
या बस साथ-साथ का झूठा दिखावा था?

वो जो भी था, हद से बहुत ज्यादा था…
तभी शायद, दिखता सिर्फ छलावा था;

वो मेरी तरफ़ से पूरा, और शायद तुम्हारे लिए आधा था,
मानो या ना मानो मेरा इश्क़ बिल्कुल सादा था;

खैर, तुम्हारा जो भी इरादा था…
मुझे तो लगता सब सादा था;

भले ही ये इश्क़ आधा था,
फिर भी मेरे लिए ये आधा से ज्यादा था।।

2 Likes

bahut khoob bahut khoob
it’s a nice post
very interesting verse
or
unka na jaane kya irada tha
mera to sath nibhane ka irada tha

1 Like

You always surprise with your work.
Keep it up

1 Like