आ जाना तू एक बार!

इस टूटे दिल की प्यास बुझाने को,
आ जाना तू एक बार फिर से चले जाने को !
शिकायतें तो है जो अब कह ना सकेंगे,
दर्द भी इतना जो अब सह ना सकेंगे,
मेरी अधूरी सी मोहब्बत में पंख लगाने को,
आ जाना तू एक बार फिर से चले जाने को !
मोहब्बत तो है और हमेशा रहेगी,
मेरी हर आवाज तुझे मेरा कहेगी,
हमारा वाला गाना आज फिर से गुनगुनाने को,
आ जाना तू एक बार फिर से चले जाने को !
तेरे होने की हर बात याद है,
तू चला गया कई सवाल याद है,
“जवाब लेना है” बनाकर इस बहाने को,
आ जाना तू एक बार फिर से चले जाने को !
अब उम्मीद नहीं है जो फिर से टूट जाऊं,
तेरी भी नहीं रही जो तुझसे रूठ जाओ,
दिल कर रहा है एक बार फिर से तुझे मनाने को,
आ जाना तू एक बार फिर से चले जाने को !
©Ashi Gupta

1 Like

bahut khoob dost
bahut hi bhadiya
and
welcome to YoAlfaaz family @Aashi_Gupta
keep writing and sharing

tum likhti rehna hum padhna chahte hai
kuch lamhe likhne aa jana tu ek baar :slightly_smiling_face:

1 Like

Welcome welcome

1 Like

Thank you :grinning::blush::blush:

2 Likes

:blush::blush::blush:

1 Like