ज़िन्दगी और कुछ भी नही तेरी मेरी कहानी है

कुछ पल सुख के, कुछ दुख के और फिर रवानी है,
ले जाएगा समय एक दिन किनारे, ये नदी सा चलता पानी है,
कोई पहुंच चुका किनारे कबका, किसी की आज बारी है,
ज़िन्दगी और कुछ भी नही तेरी मेरी कहानी है।

3 Likes

:heart_eyes::heart:

1 Like

Thankyou

:heart::heart:

1 Like

wow , zindagi aur kuch bhi nhi teri meri kahani h :dizzy: :blue_heart:

1 Like

Thankyou… Follow me at my insta @ankushbajaj100 or at this link Login • Instagram for more shayri like this…

Thankyou… Follow me at my insta @ankushbajaj100 or at this link Login • Instagram for more shayri like this…