कुछ कहना है तुमसे।

कुछ कहना चाहती हूं तुमसे,
तुम सही कर रही हो,
तुम सही राह पर हो,
अब वक्त से डरना नहीं उससे सीखना है,
तो वापस हार मानना नहीं।

कभी अकेला महसूस करो तो,
करो आंखें बंद, दो सांसों पर ध्यान,
पाओगे तुम अपने आपको,
मिलोगे तुम अपने आपको,
करोगी बात खुद से,
पूछोगे तुम खुद से,
जानोगे तुम अपनी बात दिल की खुद से,
जियो, जियो तुम्हें जैसे जीना है,
बस किसी दूसरे की सोच के कारण रुक जाना मत,
चलते रहो इस सफर में अब तुम, अब किसी के बोलने से रुक जाना मत।
– तान्या शर्मा

3 Likes

Bohot khoob likha hai… :clap:

1 Like

Thank you :relieved::heart:

1 Like

:clap::clap::clap::ok_hand::dizzy:

1 Like

:grin::heart: