उसने मेरा हाथ छुड़ा के बोला

उसने मेरा हाथ छुड़ा के बोला, उसको जाना है ,
जाना अच्छी बात नही है, यार उसको समझाना है ।

मैनें है छलकाया आँशु, कितना अपनी आँखों से,
रुक जाए जिस बात को सुनके, वो उसको बतलाना है ।

पहले तो मैं मर जाता था, छोटी छोटी बातों पर ,
अब मुझको कोई फर्क नही पड़ता, अब ये दर्द पुराना है।

उसके ओठ गुलाबी एक दम, नूर भरा है आँखों में,
छूना है गालों को उसके, उसको गले लगाना है।

उसको बिस्तर तक ले जाना, ख़्वाब नहीं है मेरा यारों,
शादी वादी करके उससे, उसको घर ले जाना है।

उसको सुनाने में आया है, आकाश एक दम पागल है,
कोई उसको बतला दो यारों, दिल उसका पागलखाना है ।।
@akash_writeups

Insta:- @akash_writeups

2 Likes

:crossed_fingers::dizzy::hibiscus::heart:

1 Like

:heart:

1 Like

:heart::heart:

1 Like

Gajab chaa gye guru :blue_heart::blue_heart::blue_heart:

1 Like

:heart: :heart:

Thank you :heart:

1 Like

My pleasure :blue_heart::blue_heart::blue_heart:

1 Like

:blush::blush:

1 Like