तुम लड़की 🖤

मैं हूं भी तो ऐसे खानदान से जहां लड़कों को respect देने से पहले लड़कियों को उनके खुद के पैर में चुभा कांटा निकालना सिखाया जाता रहा है।
तो क्या करोगी लड़की जब कोई तुमको abuse करे?
ये कहकर चुप रहोगी कि हम उस चूतिये से नहीं हैं…,
उतनी ही बत्तमीजी दिखाओगी?
या इस सोच को गिराओगी कि गाली मतलब लड़की की चुप्पी!
तुम क्या करोगी लड़की??

दो बाइक्स,
चार लड़कों के बीच झगड़ा
बीच चौराहे कर रहे हैं एक दूजे की मां-बहन
यहां तमाशबीन खड़े हैं लेकिन चुप
कुछ आपस में कहते दिखे कि
दुनियादारी है हमें क्या ही मतलब!

मैं बस स्टॉप पर अकेली लड़की खड़ी
लगीं मेरी कमर दो उंगली और गंदी गहरी छुअन
मैंने उसको तिरछी नज़र जो घूर भी दिया
ज़रा खींच के थप्पड़ चलो जड़ भी दिया
तो ऐसा भी मैंने क्या गलत किया?
यहां तमाशबीन खड़े भी हैं और चुप भी नहीं हैं

  • क्या ज़रूरत थी लड़की को बीच सड़क इतना बड़ा बखेड़ा खड़ा करने की?
  • देखा कितनी ज़ोर से चिल्ला रही थी, आवाज़ में तो ज़रा सी भी नरमी नहीं थी।
  • अब तुम ही बताओ बहन, भला ऐसी भी होती हैं भले घर की लड़कियां??

PS :
तुम बाहर पढ़ी-लिखीं
चार गाली तुमने बोलते-कहते सुनीं
जिनमें दो देना तुमने भी सीख ली
मुबारक हो!!
अब तुम भले घर की लड़की नहीं।
.
मेरे लिए चॉकलेट और आइसक्रीम का कोई तयशुदा वक्त नहीं होता। बीच सड़क कहीं भी रुक कर जीभ की गुलामी की जा सकती है। अब ऐसे में अगर छेड़े जाने पर सामने से ताव दिखाती चली आ रही अमीर बाप की लड़की दो चार नुक्कड़ पर गाली बक भी दे तो कहूंगी मैं यही कि
“नाज़ है तुम पर लड़की!”
बेशक कोई ज़रूरी नहीं कि रवैया एक सा अपनाया जाए
लेकिन घर आंसू बहाने से अच्छा, कुछ तो किया जाए…!
~ मुझे अच्छा बुरा समझ नहीं आता,
बस खुद को संतुष्ट करना आता है
ताकि मेरी उंगली मुझपे न उठने पाए।

2 Likes

Beautifully written. Keep writing. :heart:

1 Like