मुज़रिम का क़त्ल

उन्हें तो क़त्ल भी करना है।
मुज़रिम भी नहीं कहलाना है।

उन्हें ग़लत ना कहो ।
ग़लत ये ज़माना है।

Name : Shah Talib Ahmed

2 Likes

:heart_eyes::heart_eyes:

1 Like