मेरी कहानी का एक अंश

पूरा जरूर पढ़ना :-

देर रात तक जाग रहा था और खुले आसमा क निचे से चाँद को देख रहा था ।एक दम से मानो इसा लगा की चाँद ने पूछा की क्यों जाग रहे हो इतनी रात तक ।
फिर मन में जवाब आया की किसे की यादें सोने नही दे रही ।

मानो फिर चाँद ने पूछा की कौन है वो ?

फेर मन से एकाएक जवाब आया की ज्यादा खूबसूरत तो नही, पर हाँ एक नेक दिल वाली लड़की ।
उसके चेहरे की वो हर वक़त की मुस्कान किसी को भी दीवाना बनाने क लिए काफी थी ।
साधारण सूट सलवार में भी बहुत खूबसूरत हलाकि वो ज्यादातर वही पहनती थी पर सच में उसमे कुछ तो बात थी ।

वो सबके साथ घुल मिल कर रहती थी ,
दोस्त बनाना उसे बहुत पसंद था तो मेरी भी वो दोस्त बन गयी
पर मेरे मन अंदर उसके लिए प्यार की भवना थी, क्योंकि जब उसे पहली बार देखा था तो वो फिल्मों में होता है ना की, कुछ कुछ होता है, वो सच है। उसे जब भी देखता था जब वो मेरे चहेरे ले हँसी अपने आप आ जाती थी जब वो करीब आती तो दिल जोर जोर से धड़कना शरू कर देता था ।
हर रोज सोचता था की उसे आज तो दिल की बात बता ही दूंगा पर जब वो पास होती तो उस बात को छोड़कर बाकि सभी बातें करता था ।
फिर अगले दिन सोचता की आज जरूर कह दूँगा पर नही कह पता था ,
फिर ऐसे ही हम साथ में समय बिताने लगये तो कई बार मुझे इस लगा की हाँ उसके दिल में भी मेरे लिए कुछ है पर मेरा वही रहता की आज तो कह दूँगा पर नही कह पाता था।
फेर एक दिन मने हिम्मत जुटाई उसके सामने गया उसे अपने दिन की बात बताई ,
मुझे सुन कर वो बोली की मुझे भी पता नही कब से ये कहना था की मुझे इकरार है हाँ मुझे तुमसे प्यार है
उस दिन मानो मैं उड़ रहा था दिल से एक भार सा कम हुआ हो
बहुत खुश था उस दिन मैं ।
हम 2 साल तक एक दूसरी के साथ रहे बहुत से यादें बनाई और आखिर में जुदा हो गए
बस अब उन्ही यादों को याद करके देर रात तक जाग रहा हूँ मैं।
@Akash_Rohilla
@adhurimahobat

4 Likes

Kuch nya krne ki kosis kiya hai tho support kre

Bohot khubsurat likhte ho app, peaceful. :heart:

1 Like

Thank you :heart_eyes: @unknown_soul

1 Like

बहुत उम्दा ।

Collaboration

जो चला गया उसकी याद में वक़्त को बर्बाद न कर।
वो लौट आये खुद को इतना आबाद कर ।

2 Likes

कितना भी आबाद करू खुद को वो अब लोट कर आ नही सकती ,
चली गए है अब वो ठीक ठीक है जाने दो।।

2 Likes