अभी बाकी है?

भावनायों से कुछ सवाल अभी बाकि है ,
दुनिया को बदलने का ख़याल अभी बाकि है ।
नहीं मरता है यह अटल इन्क़लाबी जज़्बा ,
जोशीले लहू मे ऊबाल अभी बाकी है ।
मात नहीँ खा सकता मैं बहरूपिये कट्टरवाद से,
क्योंकि व्यंग की टेढ़ी चाल अभी बाकी है ।
अनसुना नहीँ कर पाओगे मेरे संगीत को,
क्योंकि साज़ मे सुर ताल अभी बाकी है ।
नहीँ रोक पाओगे मेरी बुलंद आवाज़ को,
क्योंकि उमंगों मे उछाल अभी बाकी है ।
न खौफ खा मौत से ऐ शाहीर ,
उसे आने मे कुछ साल अभी बाकी है ।
कुछ जवाब मिल चुकें हैं ,
मगर पूछने को कईं सवाल अभी बाकि है ।

               - शाहीर रफ़ी
2 Likes

Kya kahe aapki taareef me
Lafz baki hamare pass nhi
Yuhi hi dost likhte raho
Hamaari tareef Keval kabil nhi

Nice post

1 Like

Amazing

1 Like