शाम मेरी

शाम आज की छत पर बिताया देर तक ।।
हवा ने मुझसे मुझको मिलाया देर तक ।।

कुछ पल बातें हुई दो चार बीच हमारे
फिर बैठे बैठे वहीं मुस्कुराया देर तक ।।

©प्रांजल🌺

5 Likes

:smiley::cherry_blossom: @BABU_PRANJAL_MISHRA

hamari bhi dua hai dost ki
hum padhte rahe tumhe der tak :slightly_smiling_face: