सुनसान है

बड़ा सुनसान है याहा ,
जोश तो दिखाओ ,
कुछ बात है तो ,
जरा केह कर बताओ ,
यूं चुप ना बैठो ,
खलती है तुम्हारी कमी ,
अपने दिल को जरा ,
खोल कर दिखाओ ।

हा मै सुनूंगा तुम्हारी बातें ,
मतलब ना हो ,
समझूंगा तुम्हारी जज्बात॓ ,
घबराना नहीं ,
पढूंगा तुम्हारी बातें |

माना कि घबराते बहुत हो ,
इस दुनिया मै, खुद को छुपाते बहुत हो,
फिर भी लिखना तुम मुझे ,
कुछ अलग महसूस करोगे ,
ये जो तुमने पिरोया है ,
उसे दिल मै बसा बैठोगे ।

बस चुप न बैठो ,
कुछ बाते तो अपनी बताओ ,
ये पिंजड़े मै पड़ा दिल को,
अब खोल कर दिखाओ ।

5 Likes

It’s really so beautifully expressed! Love it! :heart::heart:

1 Like

Thankew @unknown_soul​:pray::pray::heart_eyes::bouquet:

1 Like

bohot khoob :heart_eyes:

1 Like

Thankew @parmesh_chavan :pray::heavy_heart_exclamation: