एक अनजानी मंजिल

पाने को अपनी मंजिल को इस ओर से उस ओर जा रहा हूँ मैं पता नहीं किस ओर जा रहा हूँ मैं,
एक न एक दिन खोज लूंगा रास्ता अपनी मंजिल तक जाने बस एक इसी उम्मीद में चला जा रहा हूँ मैं ॥
:-@adhurumhobat

4 Likes

:blue_heart::blue_heart:

1 Like

:blush::blush: