थोड़ी कशमकश में था मन❤

थोड़ी कशमकश में था मन होनी कुछ गुफ्तगु चाहिए…
मेरे मर्ज़ की कोई दवा नहीं मुझे बस तू चाहिए…
लाखों चेहरे दिखे यूँ तो शहर में…
मगर मुझे बस तुझ-सा कोई हुबहू चाहिए :black_heart::heart:

2 Likes