आँखों की शरारत

आँखों की ही तो शरारत थी ये
जो दिल में तेरे लिए मुहब्बत जगी
वरना हमको कहाँ दुनिया दारी से फुर्सत थी

2 Likes

unke aane ka asar kuch yu hua
hosh dil dimag, sab hath se nikal gya :wink: