कहानियां ...।

इस दौर की सबसे बड़ी परेशानी यही है कि लोग किस्से - कहानियों, के बजाय चुगलख़ोरी और सियासती बातों में ज़्यादा रूचि रखते हैं। क्या दिन थे जब हम कहानियां कहा करते थे, क्या मज़े थे एक काल्पनिक दुनिया में ग़ुम रहने के।
#90s , we miss u
#socialization is lacking :black_nib::black_nib::black_nib:

4 Likes

Behtreen
Bilkul sahi kaha apne janab.
Shayad wahi waqt, waqt tha !!

1 Like

you said it very right, wo doar hi kuch or tha…

1 Like

Well haan dost @Shaheer_Rafi
Wo din alag hi the or khaas they

Jab pyaar pyaar or dosti dosti thi
ab to pyaar affair or dosti material ho gyi hai

those were golden days

1 Like