उसके शमशान के पास मेरी कब्र हैं ।

तेरी उमर से ज्यादा मेरे प्यार की उमर हैं ।
उसके तारीफ़ में क्या बताऊँ यार वो।।

यार वो ।
बला की खूबसूरत ,कातिल हैं , ज़हर हैं ।

तुमने जो शहर में चर्चें सुने हैं उनमें हमारा ही ज़िकर हैं ।
और तुझे क्या बताऊँ मेरे यार मुझे उसकी इतनी फ़िकर है।
वो जली थी जिस शमशान में उसके करीब ही मेरी कबर हैं ।

3 Likes