दिल के अल्फाज

मेरी हर बात के अल्फाजों की, आवाज़ हो आप
मेरे सपनों के जहान की,ताज हो आप
मेरी कोशिशों की, पूरी होने की, इक आश हो आप
मेरी हर मुश्किल घड़ी का,खुशमिजाज अंदाज हो आप
मेरी एक-एक जरूरतों का हिसाब हो आप
मेरी नींद से बोझिल आँखों का, ख़्वाब हो आप
मेरी रंग बदलती फितरत का, रंगीन मिज़ाज हो आप
मेरी पल-पल बदलती जिंदगी का, साँथ हो आप
मेरी जीत की हर ख़ुशी की, हक़दार हो आप
मेरे हार के हर ग़म की, हिस्सेदार हो आप
यूँ ही नहीं पूरी ज़िंदगी मे सबसे अजीज़ हो मुझे…
सिर्फ मेरी “माँ” ही नहीं, मेरा पूरा “परिवार” हो आप…
“माँ :heartbeat::two_hearts::two_hearts::two_hearts::two_hearts:

2 Likes

Nice post @Shivam_Mishra, great effort friend
And
Welcome to YoAlfaaz family
Keep writing and sharing :slightly_smiling_face:

1 Like

Tq sir💖

1 Like

Welcome to YoAlfaaz, dear. :heart:
Keep writing and sharing. :heart:

2 Likes