"सीख खुद से प्यार करने की , खुद के लिए ज़ीने की ...."

दुनिया की भीड़ में तन्हा कदम मिलेंगे ,
कुछ साथ चलेगे कुछ पीछे छोड़ बढ़ेंगे ।।
.
हज़ारो कंधे मिलेंगे तुझे पूरी ज़िंदगी में ,
पर साथ अंत मे सिर्फ चार रहैंगे ।।
.
आज तू इसके भरोसे बैठा है , कल किसी ओर पर होगा , हर कदम पर गिड़गिड़ाएगा देखना ऐसा जरूर होगा ।।
.
आज अगर तू खुश ना हो पाया ,
आगे क्या अंदाज़ा है , आगे तेरी हस्ती बस इतनी है आज जन्म तो कल जनाज़ा है ।।
.
मै नही कहती दुनिया से वास्ता छोड़ दे , रिश्तो की दुहाई दे बस वो धागा छोड़ दे।।
.
आरज़ू तो बस इतनी है तुझसे कि तू खुद के लिए जीना सीख ले , आसमां मैने दिया है तू पंख फैलाना सीख ले ।।
.
बहुत ज्यादा बोलू मै ये मेरी औकात नहीं हैं , मेरी बातों में झुठे जज्बात नही है ।।
.
दिल और दिमाग आज भले ही साथ न चले , पर इनको एक राह पर लाना तू खुदि से सीख ले ।।
.
पल में रोना पल में हँसना बहुत होगा तेरी ज़िन्दगी में ,
दिल के दरिया को संभालना तू पतवार से सीख ले ।।
.
आसमां मैने दिया है तू पंख फैलाना सीख ले ।।
.
आज कलम उठी है तो स्याही पन्नो पर छिड़क देंगे,
लिखेंगे थोड़ा ही पर हर लफ्ज़ में तेरा हिसाब कर देंगे ।।
.
जिन अपनो की तू प्रीत निभाता है , वही आएंगे तेरे जनाज़े में ।।
तेरा दिन तेरी मौत के नाम , आंसू होंगे ज़माने के ।।
.
तेरा हँसना,तेरा रोना सब वक्त गिना देगा ,करम तेरा आज का कल तुझे फकीर बना देगा ।।
.
2 चंदन की लकड़ी और 1 बून्द घी होगा , आग की लपटे होगी लम्बी , जिसमे लिपटा कल तू होगा ।।
.
आगे तू कहेगा मैने आज मौत लिखी है , पर सच कहूं तो दोस्त मैंने बस ज़िन्दगी को लिखने की कोशिश की हैं ।।

6 Likes

Zindagi se maut tak ke khel Ko bakhubi likha he.
Dil Chu liya apke kalam ne.

2 Likes

Shukriyaa :blue_heart:

1 Like

bohot khoob …:clap::black_heart:

1 Like

Behad hi pyari kavita hai…
I loved it dii…

2 Likes

Thanks choti :see_no_evil::heart: