यारी दोस्ती

बचपने से हम भी बगीचे का शौख बना रहे थे।।
जाने अंजाने में किस किस को गले लगा रहे थे ।।

सपने में यारो💙 की बगानी खेती सजा रहे थे ।।
हर मौसम में अलग फसल उगा रहे थे ।।

लेह लेहाती फसल में कहीं सांप :snake: तो कहीं गिरगिट पाल रहे थे ।।
एक एक बार सब हमको ही डसे जा रहे थे ।।

बदला समय बगीचा🏡 बदला ।।
पता चला सालों से हम बबूल उगा रहे थे ।।

लेकिन हमतो अपना बगीचा संवार रहे थे ।।
एक एक बार सबको अपने दिल से खिलवा रहे थे ।।

_ बचपने से हम भी बगीचे का शौख :heavy_heart_exclamation:बना रहे थे ।।_
जाने अंजाने में हम किस किस को गले :star2:लगा रहे थे ।।

2 Likes

bahut khoob dost, bahut khoob