तुमको इससे क्या

आँखे नम नहीं थी हमारी,
मगर दिल चीख़-चीख़ कर रोया था…!

कहने को बेगाने हुए थे हम,
मगर अपनापन हमने खोया था…!

चुप्पी छाई थी जुबां पर हमारे,
मगर दिल ने अपना हाल सुनाया था…!

लेकिन, तुमको इससे क्या…
तुमने ही तो हमे गुनहगार साबित किया था…!
Kittu_ki_diary

3 Likes

waaahh!!:black_heart::black_heart::hugs:

1 Like