महफ़िल

यह महफ़िल जो है शायरों की हर एक को राज़ न आनी है,

बैठा है हर शायर अलग और वीरान हर एक कि कहानी है।

#नादान

5 Likes