आजा तुजे सवार दु

बात निकली है प्यार की तो आजा तुजे जता दु,
मौसम भले रुक्ष हो पर आजा तुजे सवार दु,

पल भर बैठ मेरे सामने सदियों के लिए निहार लू,
भले तू रूसी हो मुजसे तुजे एक बार मना लू,

चाहे लाख जमाना पर तुजे सर जमी-ए-दिल उतार दु।

#नादान

7 Likes

beautiful lines… :slight_smile:

1 Like