नटखट शायरी

हमने भी सुने थे किस्से

प्यार के मगर

कभी कर नहीं पाये
क्योकि
कोई आयी नहीं और जो आयी

वो मन को नहीं भायी

और जो मन को भायी

उसकी हो गयी सगाई

और जो दूसरी भायी

वो किसी और से नैन लड़ाई

फिर दिल ने कहा
एक बार और ट्राई

मैंने कहा नहीं भाई
बस यही पर ब्रेक लगाई

8 Likes

Nice :joy::laughing::laughing::heart_eyes:

nice one… :slight_smile: