भार! भार!

इन भींगी पलकों का भार वो क्या समझेंगे,
उनके लिए जिम्मेदारियाँ प्यार से बड़ी हों गयी थीं!

4 Likes