इश्क़ पे कुछ इश्क़ लिखा है ❤️

इश्क़ क्या है

लोग बोलते वो सच्चा मोहब्बत सबको नहीं होता ,लोग कहते वो सबके क़िस्मत में नहीं होता ,लोग कहते जिसको अपनी ज़ुबान से लगा लो वो आदत कर जाती है ,जिसके जाने से दुनिया पलट जाती है,
(इश्क़ किया है ,आशिक़ बन गए,हम इस ज़ालिम दुनिया के नज़र में जो ढस गए…!)
क्या कहु इश्क़ क्या है -जो माँ-बाप है वो या जो करते हम है इश्क़ छुप के,…पता नहीं इश्क़ क्या है लेकिन जो भी है करते सब है
इस बहकी दुनिया में क़दम रखतेसब है …माना थोड़ा तोड़ देता है ये इश्क़ अपने आशिक़ों को मगर सुकून भी पहुँचाती है जब ये हो जाती पूरा है माना मरते लाख है एक हुसन पे लेकिन ज़ालिम नज़र बस एक पे रुक जाती है …ये ऐसा खेल है जो अच्छों-अच्छों को बर्बाद कर जाती है,लूटा लिया धन भी और मन भी मिला नहीं वो प्यार को प्यार कहते है ये इश्क़ है जिसमें हर बार तकरार होती हैमाना इश्क़ नहीं हुआ कभी किसी को वो उसे इश्क़ कहते है,लोग बर्बाद ख़ुद होते है और ग़लत इश्क़ को कहते है😌

*इश्क़-इश्क़ को लोग इश्क़ कहते है,जो एक नज़र में भा जाए उसे इश्क़ कहते है,जो इकरार करने बाद इंकार कर दे उसे इश्क़ कहते है ,जो लड़-झगड़ ले उसे इश्क़ कहते हैं,जो नज़रें झुक जाए शर्म से उसे इश्क़ कहते है,जो बार-बार टूट जाए जो बात-बात पे रुला जाए उसे इश्क़ कहते है…

*आख़िर इश्क़ को ही इश्क़ समझते है,लोग बात-बात पे आशिक़ बनने को इश्क़ समझते हैं…जो कहते है इश्क़ अधूरा है.उस अधूरे कहानी को इश्क़ समझते है *

“इश्क़ है वो जिसको हम ना समझते
हम जिसको समझते वो इश्क़ नहीं “

Crooked_._dimple
Aditi

6 Likes

waahh waahh kya bat…!! Keep it up!!

1 Like

ishq ishq ishq…
read wah wah wah !
:smile::heart:

1 Like