जीत मेरी अभी बाकी हैं॥

motivation
#1

अभी मेरे अंदर थोड़ी जान बाकी हैं,
अभी मेरे अन्दर कि आग बाकी हैं,
तु बेक़रार हैं मुझे कब्र में देखने को,
मैं बेक़रार हूँ जीत का स्वाद चखने को,
एक बाज़ी तुमने खेली, एक अभी बाकि हैं,
तू तय्यार रहना हार अपने के लिए नही,
उस दिन कि आग अभी बाकी हैं,
क्यूंकि जीत मेरी अभी बाकी हैं॥

4 Likes
#2

:heart::heart:

1 Like
#3

Too good

1 Like
#4

Tqsm

1 Like
#5

:pray::rose:

#6

This is mind blowing

1 Like
#7

Tqsm

1 Like
#8

Wcsomuch

1 Like