स्वर्ग है माँ

love
shayari
#1

ज़मीं पर नहीं, आसमां में नहीं
वादों पर नहीं, फरियादों में नहीं
रास्तों पर नहीं, बाग़ गलियारों में नहीं
फूलों पर नहीं, चाँद सितारों में नहीं
स्वर्ग मिलेगा कहाँ???
अरे!! वो तो तुम्हारे पास ही है
और उसे कहते हैं माँ माँ माँ।

5 Likes
#2

:+1::+1::ok_hand::ok_hand:

1 Like
#3

Thankyou very much

1 Like
#4

:heart::ok_hand:

1 Like
#5

Bahut dhanyawad apka :heart::heart:

2 Likes