फ़कीर!

देकर फकीरा-ए-भेस,
तमाशा-ए-अहले-करम देखते रहे वो॥

7 Likes

Alright!

Wah wah