ममता का आँचल

सुकुन खोजती फिरै मै इस जहान में,
मिला बस तेरे आँचल कें छाँव में॥

6 Likes

Unbelievable Work! :clap: :clap: :clap: