ज़िक्र फ़िक़्र

मेरी शायरिओ में ज़िक्र तेरा,
मेरी बातों में भी जिक्र तेरा
शिरकत में भी फ़िक़्र तेरा,

दिल की चाहत में चेहरा तेरा,
बेवफ़ाई में भी हाथ तेरा,
और गुनाहो का सेहरा और सिर मेरा!

#नादान

5 Likes

You’ve Made Progress!