खुद का कतरा कतरा बेच के

खुद का कतरा कतरा बेच के मैने
तेरी यादों को पाया है
हर लम्हा हर पल मैने
इन्हें अपने आंसू से सजाया है
जो तू नहीं तो…
… सब ठीक है फिर भी
इस दिल को हर बार यही समझाया है
खुद का कतरा कतरा बेच के मैने
तेरी यादों को पाया है!

3 Likes

nice post friend :slightly_smiling_face:

Amazing