Problem & patience relation

परेशानियों में सब्र आज़माता हूँ।
सब तकलीफ़ के शोर के इंतज़ार में रहते है।

में ख़ामोशी इख़्तियार कर जाता हूँ।

तलाश पुरी नहीं होने देता उनकी।
ना ही घबराता हूँ।

सिर्फ़ मिज़ाज़न ख़ामोशी इख़्तियार कर जाता हूँ।

5 Likes

Waahh ji :ok_hand::orange_heart:

1 Like

Shukriya dear

1 Like

Lovely brother

1 Like

Thanks bro :innocent:

Your writings :revolving_hearts:

1 Like

Ultimate, shaandaar, bahut khoob dost @TALIB_ahmed :ok_hand::ok_hand::ok_hand:

1 Like

Thxxx for such a lovely response :slightly_smiling_face:

2 Likes

Shukriya bhai :slightly_smiling_face:

1 Like