Meri Ibadan tum ho

मेरी हर दुआ तुम्हारे लिए और
तुम मेरी इबादत में शामिल हो
मंज़िल जिसकी तुम वो सफर मेरा हो
ज़माने का क्या डर जब हाथो में हाथ तेरा हो ,
बस चाहत इतनी मेरी की जब दुनिया से रुक्सत हूं
तो आखिरी चेहरा तेरा देखा हुआ हो ।

4 Likes

Nice nice… :two_hearts::two_hearts:

1 Like

Outstanding Performance!

1 Like