Mashaaalah

आंखे है तुम्हारी किसी झील से बड़ी,
देखो हमारी नजर भी तुम पे ही अडी,

क्यों हो मुझसे से यू दूर खड़ी,
इशारों में ही सही घूमादो जादू की जड़ी।

#नादान

6 Likes