Love story of Anuj and anokhi part-2

Love story of Anuj and anokhi part-2
आज हम दोनो अपने अपने घर लोट रहे हैं। सुबह वो और शाम को मैं वो मेरे सामने ही है और जा रहा है। वो पूरी शादी के दौरान हम एक दूसरे से आंखो ही आंखो में बात करते रहे पर इज़हर ना कर पाए। मुझे तो ये भी नहीं पता वो मेरे लिए वैसा महसूस करता भी है या नहीं। वो जा रहा है गाड़ी में बैठकर मुझे इतना बुरा क्यों लग रहा है और वो चला गया बिना कुछ कहे बीना कुछ सुने। मैं अपने शहर वापस आ गई हूं पर में बीते कुछ दिन भूल ही नी पा रही हूं। कुछ दिन बाद मैने मेरी बहन को जीजू से फोन नंबर लेने के लिए कहा फाइनली मेरी उससे बात होने वाली है। और शायद मै इजहार करने वाली हूं। बडी धीमी आवज़ में मैने कहा अनुज बात कर रहे हो वहा से उतर आया हा मैं ही हूं। ऐसे ही बाते होती रही और पता ही नहीं चला कि कब घंटो बीत गए और मैने उससे कह ही दिया कि मुझे तुमसे प्यार है तुम्हें है या नहीं ये नहीं पता तुम्हारी हा होगी तो हम आगे बढ़ेंगे इस रिश्ते में और ना होगी तो ये मेरे पहला और आखरी कॉल होगा। और वह से उतर आया कि हा मुझे भी तुमसे प्यार है। बस कहने से डर रहा था। कि हमारे रिश्ते खराब ना हो जाए। एक नए रिश्ते की शुरुआत तो हो गई हैं पर क्या ये रिश्ता हम दोनों निभा पाएंगे क्या एक दूसरे के साथ हमेशा रह पाएंगे ये तो नहीं पता बस इतना पता है कि ये शुरुआत हैं और अंत बहुत बुरा।

this part is for those who actually like the story and want to know what’s next now if u guys want to know what next do like,share and comment…and If you couldn’t see the previous part go and check…

5 Likes