Love poem

मै यहा हु वो वाहा है हमारे बीच मीलो की दुरी है तो क्या हुआ
दिलो मे तो पास है
चाहे रोज बात ना हो तो क्या हुआ
कभी-कभी ही सही बात तो होती है
रोज मुलाकत ना सही तो क्या हुआ
साल मै एक मुलाकत ही सही
आज हम दुर है तो क्या हुआ
एक दिन साथ तो होना है!

3 Likes

You’ve Got It!
the awesome talent :slightly_smiling_face:

1 Like

:pray:thank u sir

1 Like