Koshish kar lo bhulane ki

हमें परवाह नहीं तुम जो करो कोशिश भूलने की,

रोज़ शीशे में जो निहारोगे खुद को,

उसमे अक्स तो हमारी ही पाओगे हर घडी…

3 Likes