Holi 🌹

रंग जो बिखरेगे
रास्ते-रास्ते पे
सबके चेहरे रंगीन दिखेगे
फ़िर-से अब होली पे
मिलाप का दिन वो दूर नहीं
जब सब एक दूजे के गले मिल
गुलाल लगाए गे अपने
बड़े-बुजुर्गो के पेरो पे…
शाम होगा पर
सुबह का पताः नहीं चलेगा
लोग दिखेगे लेकिन
बाहर इन्तज़ार कर अपनों का…
फ़िर किलकारी बच्चो के,
तो शोर सुनेगे सब अपने बड़ो के
घर वो छोटा-सा लेकिन प्रतीत
होगा बड़े राज महलो सा

Crooked_dimple
Aditi

2 Likes

To be very honest
It’s great
Last ki line ne to Dil Chu Liya or Sama baandh diya

Bahut khoob bahut khoob

It’s good reading this post