Gym wali crush ki tareefa

भीड़ में सबसे मुख़्तलिफ़ हैं।
तेरी पहचान ।

बेशक़ सबसे ख़ूबसूरत हैं ।
तेरी मुस्कान ।

तेरा जिक्र कर रहा हूँ , जल्द ही तुझतक ये बात पहुँच जायेगी ।
यह एहसास ही बदनाम हैं इसे फिकर कहो या इश्क़ किसी को समझ न आयेगी ।

शायद फिर कभी ना हो गुफ़्तुगू दोबारा
पर तुम जानते हो मैं कल आज और कल रहूँगा सिर्फ तुम्हारा

3 Likes

That’s nice really :clap::clap::clap:

1 Like

Shukriya shukriya

1 Like