Ek shayari

मायूस बैठे हैं उनके लिए ,
जिनके लिए हमारे कोई मायने नहीं,
और दूर होते जा रहे है खुद से उनके लिए ,
जिनके लिए हमारी दूरी का कोई मतलब नहीं ।
-अनन्या

1 Like