Dreams

यूँ तो रहता है कोई नज़र के सामने महज़ चंद फ़ासलों पर,
उसे देखूँ की छू लूं कहीं आँख न खुल जाए…

6 Likes

A+ Work!

Wah! :heart: